सोमवार, 21 अक्टूबर, 2019
brijlive, brajlive, brij, braj, live,tv,channel,portal, dham
Welcome Guest | Make Home Page | Add to Favorites | Login | Register New Account
Braj Dham
LIVE
| More
Kanhaiya Sharma: बरसाना- शासन की स्वीकृति बताकर ब्रह्मांचल पर्वत की शिलाओं और लता-पताओं व वृक्षों को तोड़ाफोडा़ काटा जा रहा है। जिला उद्यान अधिकारी जगदीश प्रसाद का कहना है कि ब्रह्मांचल पर्वत पर श्रृद्धालुओं का खान-पान का ध्यान रखते हुए शासन से स्वीकृती लेने के बाद केंटीन का निर्माण किया जा रहा है। न कोई शिला तोड़ी है न कोई पेड़ काटा है कुछ असमाजिक तत्व बेकार में इसे रोकना चाह रहे हैं। यह ब्यान जिलाधिकारी का अमर उजाला में दिया गया । लोगों का कहना है जिलाधिकारी जी आप स्वंय आकर देखें वहीं से ब्यानवाजी न करें। कितने शिलाओं को खण्ड-खण्ड कर दिया है और कितने वृक्षों को काट गिराया है। जिसकी विडियो और फोटो लोगों ने खुब शेयर कर रहे हैं और मिडिया पर भी आंखों देखा हाल दिखा जा रहा है। संत श्रीगोपाल बाबा का कहना है कि जिलाधिकारी के ब्यानों के अनुसार विरोध करने वाले संत माहात्मा और सामाजिक संगठन असामाजिक तत्व और बेकार के लोग हैं। इस तरह एक बड़े अधिकारी के ब्यान देने को हम क्या समझे कोई समाजिक कार्यकर्ता व संतजन असमाजिक तत्व नहीं हो सकते है। हम इसकी कड़ी निन्दा करते हैं । वहीं गोविंद मुनीम जी का कहना है कि इस देवस्वरूप ब्रह्मांचल पर्वत की महिमा पुराणों और शास्त्रों में गायी जाती है। जो कोई भी इसके साथ खिलवाड़ करेगा वह पाप नहीं अपराध का भागी हैं। जिसका कोई प्राश्चित नहीं होता। कुछ समाजिक संगठनों ( श्रीजी मंदिर विकास ट्रस्ट और शहीद भगतसिंह क्रान्तिदल) व संतों ने मिलकर उच्चाधिकारियों से शिकायत की और कहा है कि हम इस निंदनीय कार्य को रोकने के लिए हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक जायेगें। और विरोध में संघर्ष भी करेंगे। हम यह सन्देश देना चाहते हैं कि ब्रह्मांचल पर्वत के साथ हो रहा यह अपराध / पाप को तुरंत रोक दिया जाये।
आपके अनुसार इस लेख को पहली बार वोट दें
 
Press Ctrl+G To Change Between Hindi and English
 
 
 

Attached Videos
Total : 1 Videos
Category Wise
Date Wise

Braj dham Specials